अंडोरा - अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का 190वां सदस्य : डेली करेंट अफेयर्स

अंडोरा: अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का 190वां सदस्य

चर्चा में क्यों?

  • यूरोप का एक देश अंडोरा 16 अक्तूबर 2020 को औपचारिक रूप से अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष में शामिल हो गया।
  • इससे पहले 2016 में नौरू गणराज्य अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष में 189वाँ देश के रुपमे शामिल हुआ था।

पृष्ठभूमि

  • अंडोरा मुख्यतः पर्यटन आधारित अर्थव्यस्था है, और कोविड महामारी ने पर्यटन को पूरी तरह से ठप कर दिया है।
  • इसलिए इसे अपनी अर्थव्यवस्था को चलाये रखने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का सदस्य बनना पड़ा।

अंडोरा के बारे में

  • अंडोरा यूरोप के पाइरेनीज/पिरेनीज पर्वत के दक्षिणी चोटियों में स्थित है। यह उत्तर और पूर्व में फ्रांस से तथा दक्षिण और पश्चिम में स्पेन से घिरा हुआ स्थलबद्ध देश है।
  • अंडोरा देश यूरोप का छठा सबसे छोटा देश है और दुनिया का 16 वाँ सबसे छोटा देश है। इसकी राजधानी अंडोरा ला वेला है, जो यूरोप की सबसे ऊँचाई पर स्थित राजधानी है।
  • इसका क्षेत्रफल 468 वर्ग किलोमीटर (181 वर्ग मील) और जनसंख्या तक़रीबन 85,000 है। यहाँ की मुद्रा यूरो है परंतु यह यूरोपियन यूनियन का सदस्य नहीं है।
  • अंडोरा ने 1993 में संसदीय लोकतन्त्र को अपनाया था।
  • अंडोरा की अधिकारिक भाषा कैटलन है, इसके साथ-साथ यहाँ स्पेनिश, पुर्तगाली और फ्रेंच भाषा का प्रयोग भी किया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के बारे में

  • इस कोष की स्थापना जुलाई 1944 में सम्पन्न हुए संयुक्त राष्ट्र मौद्रिक एवं वित्तीय सम्मेलन (ब्रेटन वुड्स, संयुक्त राज्य अमेरिका) में हस्ताक्षरित समझौते के अंतर्गत की गयी।
  • 27 दिसंबर, 1945 को भारत समेत 29 देशों ने मिलकर औपचारिक रूप से अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का गठन किया था।
  • इसका मुख्यालय वाशिंगटन डीसी में स्थित है।
  • अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा वैश्विक वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट (Global Financial Stability Report), वित्तीय निगरानी (Fiscal Monitor), क्षेत्रीय आर्थिक रिपोर्ट (Regional Economic Reports) प्रकाशित किये जाते है।