यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स (07 जुलाई 2020)


यूपीएससी और सभी राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षाओं के लिए हिंदी में डेली करेंट अफेयर्स

Daily Hindi Current Affairs for UPSC, IAS, UPPSC/UPPCS, BPSC, MPPSC, RPSC and All State PCS Examinations


ब्यूबोनिक प्लेग (Bubonic Plague)

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में उत्तरी चीन के एक शहर में बुबोनिक प्लेग का एक संदिग्ध मामला सामने आया है। बुबोनिक प्लेग को लेकर बेन्नूर, (आंतरिक मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र) ने प्लेग की रोकथाम और नियंत्रण के स्तर III की चेतावनी की घोषणा की गयी है।

ब्यूबोनिक प्लेग (Bubonic Plague)

क्या है ब्यूबोनिक प्लेग?

  • घातक बीमारी ब्यूबोनिक प्लेग(bubonic plague) को मध्य काल में ब्लैक डेथ (Black Death) के रूप में जाना जाता था।
  • बुबोनिक प्लेग बैक्टीरिया यर्सिनिया पेस्टिस के कारण होता है। यर्सिनिया पेस्टिस बैक्टीरिया, आमतौर पर छोटे स्तनधारियों और उनके पिस्सू में पाए जाने वाले एक जूनोटिक जीवाणु होते हैं।
  • इस रोग में मरीजों को बुखार, सिरदर्द, ठंड लगना, कमजोरी, सूजन, लिम्फ नोड्स (जिन्हें बुबोस कहा जाता है) की अचानक शुरुआत होती है। यह रूप आमतौर पर एक संक्रमित पिस्सू के काटने से होता है । बैक्टीरिया लिम्फ नोड को बढ़ा देते हैं जहां से और अधिक बैक्टीरिया मानव शरीर में प्रवेश करते हैं। यदि रोगी को उचित एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज नहीं किया जाता है, तो बैक्टीरिया शरीर के अन्य भागों में फैल सकता है।
  • इस रोग के लक्षणों में लिम्फ नोड्स में सूजन शामिल हैं एवं इसका प्रभाव कमर, बगल या गर्दन में दिखता है ।
  • बुखार, ठंड लगना, सिरदर्द, थकान और मांसपेशियों में दर्द इसके अन्य लक्षण है।
  • बुबोनिक प्लेग की स्थिति में हैवी डोज के एंटीबायोटिक दवाओं के साथ तत्काल अस्पताल उपचार की आवश्यकता होती है।

उष्णकटिबंधीय चक्रवात एडवर्ड

चर्चा में क्यों?

  • हाल ही में एक उष्णकटिबंधीय तूफान ‘एडवर्ड’ महाद्वीपीय अमेरिका से दूर अटलांटिक महासागर की ओर बढ़ने लगा। मियामी में स्थित अमेरिकी राष्ट्रीय तूफान केंद्र ने कहा के अनुसार एडवर्ड में सबसे तेज गति की हवाएं 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हैं। एडवर्ड तूफान करीब 57 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से उत्तरपूर्व की तरफ बढ़ रहा है।

क्या होते है उष्णकटिबंधीय चक्रवात?

  • उष्णकटिबंधीय चक्रवात एक ऐसा तूफान है जिसके बीच में काफी कम दबाव का क्षेत्र होता है। चक्रवात के आने के साथ बिजली कड़कने के साथ तेज़ हवाएं चलती हैं और भारी बारिश होती है।
  • उष्णकटिबंधीय चक्रवात तब पैदा होता है जब नम हवा ऊपर उठती है। नम हवा के ऊपर उठने से गर्मी पैदा होती है। इस गर्मी की वजह से हवा की नमी का संघनन होता है और बादल बनते हैं जिससे बारिश होती है।
  • उष्ण कटिबंधीय चक्रवात या ट्रॉपिकल साइक्लोन आम तौर पर 30° उत्तरी एवं 30° दक्षिणी अक्षांशों के बीच पैदा होते हैं । इसकी वजह इन अक्षांशों में इन चक्रवातों के पैदा होने के लिए आदर्श स्थितिया है।
  • भूमध्य रेखा या इक्वेटर पर कम दबाव होने के बावजूद कोरिओलिस बल न के बराबर होता है ।इसकी वजह से हवाएं वृत्ताकार रूप में नहीं चलतीं,और चक्रवात नहीं बन पाते । दोनों गोलार्द्धों में 30° अक्षांश के बाद ये हवाएं पछुआ पवनों के प्रभाव में आकर स्थल पर पहुँचकर ख़त्म हो जाती हैं।
  • आम तौर पर उष्ण कटिबंधीय चक्रवात बनने के लिए समुद्री सतह का तापमान 27°C से ज़्यादा होना चाहिए , कोरिओलिस बल का असर होना चाहिए , ऊपर चलने वाली हवा न के बराबर हो
  • उष्णकटिबंधीय चक्रवात का प्रभाव प्रमुख रूप से प्रशांत महासागर, हिंद महासागर और उत्तरी अटलांटिक महासागर के क्षेत्रों पर ज्यादा रहता है। इस क्षेत्र में आने वाले चक्रवातों को अपने स्थान और तीव्रता के आधार पर अलग-अलग नामों से जाना जाता है। इस श्रेणी में हरिकेन, टाइफ़ून, ट्रोपिकल स्ट्रोमी, साइक्लोनिक स्टोर्म ट्रोपिकल डिप्रेशन और साइक्लोन यानी चक्रवात शामिल होते हैं।

प्रीडेटर-बी ड्रोन और सी गार्डियन ड्रोन

चर्चा में क्यों

  • लद्दाख में चीन के आक्रामक व्यवहार और पाकिस्तान को युद्धक ड्रोन बेंचने की कार्यवाही ने भारत को मध्यम ऊंचाई पर लंबे समय तक कार्य करने में साक्षम सशस्त्र प्रीडेटर-बी अमेरिकी ड्रोनों की नए सिरे से खरीद में रुचि व्यक्त करने के लिए प्रेरित किया है।

प्रीडेटर-बी ड्रोन और सी गार्डियन ड्रोन (Predator B and Sea Guardian Drones)

प्रीडेटर-बी ड्रोन

  • प्रीडेटर-बी ड्रोन का दूसरा नाम MQ- 9 रीपर है। यह एक मानवरहित वायुयान है जिसे रिमोट से कंट्रोल किया जा सकता है।
  • इसका विकास जनरल एटॉमिक्स सिस्टम्स (GA-ASI) द्वारा मुख्यतः अमेरिकी वायु सेना के लिए किया गया है।
  • यह पहला हंटर किलर यू ए वी है जिसे लंबी दूरियों, अधिक ऊंचाइयों, और निगरानी के लिए बनाया गया है।
  • अमेरिकी प्रीडेटर बी ड्रोन न सिर्फ खुफिया जानकारी इकट्ठा करता है, बल्कि लक्ष्य का पता लगाकर उसे मिसाइल और लेजर गाइडेड बम से नष्ट भी कर देता है।
  • वर्तमान में भारत द्वारा पूर्वी लद्दाख में सर्विलांस के इस्राइली हेरोन ड्रोन का उपयोग करता है।

सी गार्डियन ड्रोन

  • अमेरिका ने भारत को 4 अरब डालर से अधिक कीमत के 30 सी गार्डियन ड्रोन बेचने की पेशकश की है।
  • यह प्रीडेटर बी ड्रोन का समुद्री संस्करण है जिसमें रेथियन सी वूई मल्टीमोड मैरिटाइम रडार फिट है।
  • सी गार्डियन ड्रोन अमेरिका समेत उसकी सहयोगी सेनाओं का अहम रक्षा उपकरण है। ये ड्रोन लगातार 40 घंटे तक उड़ान भरते हुए दुश्मन की किसी भी हरकत पर नजर रखने में सक्षम है।
  • भारत पहला गैर-नाटो देश है, जिसके लिए वाशिंगटन ने सी गार्जियन के निर्यात को मंजूरी दी है।

प्रारंभिक परीक्षा के लिए अभ्यास प्रश्न

प्रश्न: निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

1. प्रीडेटर बी ड्रोन सिर्फ एक सर्विलांस ड्रोन है।
2. सी गार्डियन ड्रोन प्रीडेटर बी ड्रोन का समुद्री संस्करण है।

उपरोक्त में से कौन सा/से कथन सही है/हैं?

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) 1 और 2 दोनों
(d) न तो 1 न ही 2

उत्तर : (b)

व्याख्या: प्रीडेटर बी ड्रोन का विकास जनरल एटॉमिक्स सिस्टम्स (GA-ASI) द्वारा मुख्यतः अमेरिकी वायु सेना के लिए किया गया है। प्रीडेटर बी ड्रोन न सिर्फ खुफिया जानकारी इकट्ठा करता है, बल्कि लक्ष्य का पता लगाकर उसे मिसाइल और लेजर गाइडेड बम से नष्ट भी कर देता है। सी गार्डियन ड्रोन, प्रीडेटर बी ड्रोन का समुद्री संस्करण है जिसमें रेथियन सी वूई मल्टीमोड मैरिटाइम रडार फिट है।