Economy

विश्व बैंक सुधार और लीमा सम्मलेन

on September 27th, 2016

अक्टूबर,2015 में लीमा(पेरू) में आयोजित विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष की विकास समिति, जो विकास संबंधी मामलों पर विश्व बैंक समूह और अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष की मंत्रीस्तरीय समिति है जो विकास के मुद्दों पर सर्वसम्मत राय बनाने का प्रयास करती ...

Read More

भारत-मॉरिशस दोहरे कराधान से बचाव समझौता(DTAA)

on September 16th, 2016

भारत-मॉरिशस दोहरे कराधान से बचाव समझौता(DTAA) 1980 के दशक में भारत ने विदेशी निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए दोहरे कराधान से सम्बंधित समस्या के समाधान की दिशा में पहल करते हुएमॉरिशस के साथ दोहरे कराधान से बचाव के लिए  समझौता(DTAA)संपन्न किया.यह ...

Read More

पी-नोट्स पर नए दिशा-निर्देश

on September 16th, 2016

क्या हैं पी-नोट्स पी-नोट्स ऐसा इंस्ट्रूमेंट है, जिसके जरिये कोई विदेशी निवेशक भारतीय पूंजी बाज़ार में पंजीकरण के बिना ही यहां निवेश कर सकता है। इसके लिए उसे पहले से रजिस्टर्ड विदेशी संस्थागत निवेशकों से संपर्क करना ...

Read More

“रचनात्मक भारत; अभिनव भारत”

on August 26th, 2016

 “रचनात्मक भारत; अभिनव भारत”                   बौद्धिक सम्पदा अधिकार पर राष्ट्रीय नीति                  ============================== पृष्ठभूमि: विकसित देशों का बढ़ता दबाव और मेगा-रीजनल ट्रेड एग्रीमेंट की चुनौतियां: अप्रैल, 2013 में जब सुप्रीम ...

Read More

Flawed premise, misplaced prescription

on August 1st, 2016

The policy framework of inflation targeting suggested by the Urjit Patel panel is drawn from a foreign context. The RBI must weave in trade and capital flows into the proposed policy fabric Indians have been described as argumentative. In ...

Read More